Web Hosting Kya Hai Or Kha Se Khride – हिंदी में जानकारी

Web hosting kya hai or kha se khride in बातों को जानने से पहले कुछ बेसिक चीजे जानेंगे जिसे सारी बातें अच्छे से समझ में आ सके।

दोस्तों, क्या आपने कभी सोचा इंटरनेट पर इतनी बड़ी-बड़ी वेबसाइट क्यों और कैसे रन कर रही है?

आखिर इंटरनेट पर ऐसा क्या चीज है जिससे हम अपनी वेबसाइट को internet पर स्टोर कर सकते हैं।

अगर आपको नहीं पता तो मैं आपको बता दूं, इंटरनेट पर कोई भी वेबसाइट चलाने के लिए होस्टिंग की जरूरत पड़ती है।

अगर आपने भी खुद का वेबसाइट बनाने का सोचा है तो आपको होस्टिंग की जरूरत पड़ेगी।

आज मैं आपको इस पोस्ट के जरिए होस्टिंग से जुड़ी सारी बातें बताऊंगा, जैसे की web hosting kya hai or kha se khride, web hosting कैसे काम करता है, उसके कौन-कौन से प्रकार है।

आइए जानते हैं सारी चीजे detail मे, post को last तक पढ़े आपको बहुत सारी जानकारी मिलेगी।


वेब होस्टिंग क्या है (what is web hosting in Hindi)

web hosting kya hai

web hosting इंटरनेट पर एक वेबसाइट को रन कराने के लिए जगह देता है।

जैसे कि आप सोच सकते हैं, आपको एक दुकान खोलनी है तो आपको सबसे पहले किस चीज की जरूरत पड़ेगी?

एक कमरा, है कि नहीं?

बिना कमरे की आप सामान कहां रखेंगे।

उसी तरह अगर आपको इंटरनेट पर खुद का वेबसाइट खोलना है, तो आपको Web Hosting की जरूरत पड़ती है।

क्योंकि एक Website पर आप बहुत सारी चीजें Upload करते हैं जैसे की File, Video, Images तो आपको इन चीजों को ऑनलाइन स्टोर करने के लिए कोई जगह तो चाहिए होगी।

वही जगह आपको वेब होस्टिंग प्रदान करता है, जिससे कि आप अपना वेबसाइट ऑनलाइन रख सके।

अब आपका सवाल यह हो सकता है कि आखिर कहां पर आपका वेबसाइट रहता है।

तो मैं आपको बता दूं, वेबसाइट वेब सर्वर पर स्टोर किया जाता है जिसके लिए आपको होस्टिंग की जरूरत पड़ती है।

उस पर आप अपना website आसानी से स्टोर कर सकते हैं।

लेकिन आपको web hosting के लिए कुछ पैसे हर महीने देने पड़ेंगे।

वैसे ही जैसे आप अगर कोई दुकान किराए पर लेते हैं तो आपको किराया देना होता है।

आप अपना खुद का भी Web Server बना सकते हैं लेकिन उसको मेंटेन करने का कॉस्ट बहुत ज्यादा होता है इसलिए web hosting खरीदना ज्यादा बेहतर option होता है।

Web Hosting खरीदने के बाद आपको online स्पेस मिल जाता है, जिससे कि आप अपने वेबसाइट को उसमें Host कर सकते हैं।

Web Hosting आपके वेबसाइट को 24×7 इंटरनेट पर ऑनलाइन रखता है।

जिससे कोई भी व्यक्ति आपके वेबसाइट को कभी भी कहीं से भी Access कर सके।


वेब होस्टिंग काम कैसे करता है? (how web hosting works)

web hosting kaise kam krta hai

इंटरनेट पर आप कोई भी वेबसाइट खोलते हैं तो आपने देखा होगा कि सर्च बार में एक URL होता है।

हर साइट के लिए URL अलग अलग होता है।

वही URL अगर आप किसी भी वेब ब्राउज़र में जैसे कि Google chrome, Firefox और UC browser आदि में डालते हैं तो आप उस यूआरएल से जुड़ी साइट पर पहुंच जाते हैं।

URL Full Form – Uniform Resource Locater

URL मे ही IP address और डोमेन नेम होता है आपके वेबसाइट का।

जब भी कोई वेब ब्राउजर मे आपके साइट का domain name या URL enter करता है, आपके वेबसाइट पर पहुंच जाता है।


वेब होस्टिंग कितने प्रकार के होते हैं ? (Types Of Web Hosting)

हमने web hosting के बारे में तो जान लिया अब हम उसके प्रकार के बारे में जानेंगे कि आखिर कितने प्रकार का होता है।

Web hosting

1. Shared Web Hosting

2. Cloud Web Hosting

3. Dedicated Server Hosting

4. Virtual Private Server (VPS)

5. WordPress Hosting

1. Shared Web Hosting

Shared Web Hosting का मतलब है एक Web Hosting जो दूसरे लोगों में भी बांटा गया है।

आप एक उदाहरण ले सकते हैं, मान लीजिए की आप कहीं बाहर पढ़ने गए हुए हैं।

तो आपको हॉस्टल में या कहीं बाहर रूम लेना होता है।

आप सोचते हैं कि कुछ पैसो की बचत हो जाएगी किसी के साथ मिलकर रूम ले लेते हैं।

उसी प्रकार इंटरनेट पर आप Shared Web Hosting खरीद सकते हैं।

जिसमें आपके अलावा और भी लोगों की साइट को स्टोर किया जाएगा।

Shared Web Hosting मे हजारों वेबसाइट की फाइल एक ही Server Computer में स्टोर किया जाता है।

अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं तो Shared Web Hosting आपके लिए सबसे अच्छा और सस्ता Option है।

क्योंकि शुरू के दिनों में हमारे वेबसाइट पर उतनी फाइल्स नहीं होती हैं तो हमें हमारा काम करने के लिए कम Storage की जरूरत पड़ती है।

Shared Web Hosting में फायदा और नुकसान दोनों हैं।

तो आइए हम जानते हैं इसके क्या फायदे और क्या नुकसान हैं।

Shared Web Hosting के फायदे – Advantages of shared hosting

>>सस्ता है – Shared Hosting और सारी वेब होस्टिंग की तुलना में बहुत ही सस्ते दामों में अवेलेबल होता है।

>>सेट अप करना आसान है – Shared Hosting में सेट अप करना बहुत ही आसान होता है, आपको बस c-panel में जाकर अपने फेवरेट Web एप्लीकेशन को इंस्टॉल करना है।

>>बेगिनर फ्रेंडली – वेबसाइट शुरू करने के लिए सबसे बेहतरीन Shared Web Hosting को माना जाता है, क्योंकि इसमें आपको अपना वेबसाइट online करने के लिए ज्यादा टेक्निकल नॉलेज की जरूरत नहीं है।

>>कंट्रोल पैनल – शेयर्ड होस्टिंग में आपको बहुत ही आसान और User Friendly Control Panel मिल जाता है, जहां से आप अपनी वेबसाइट से जुड़ी सारी चीजें एक ही जगह पर पा सकते हैं।

Shared Web Hosting के नुकसान – Disadvantage of shared hosting

>>स्पीड – Shared Hosting मे आपको और पोस्टिंग की तुलना में कम स्पीड मिलती है, क्योंकि आपका वेब सर्वर और दूसरे लोगों के साथ भी शेयर हो रहा है।

>>सिक्योरिटी कम मिलती है – दूसरी web hosting के तुलना में इसमें आपको कम सिक्योरिटी मिलेगी, जिसे की वेबसाइट पर काफी रिक्स बना रहता है। लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है बहुत ही अलग-अलग ऑप्शन अवेलेबल है अपनी वेबसाइट को सिक्योर करने के जैसे बैकअप बनाया या फिर कोई सिक्योर WordPress Plugin इस्तेमाल करें।

>>सपोर्ट – अगर आप कहीं से भी होस्टिंग खरीदते हैं तो सपोर्ट And हेल्प मिलता है कि नहीं यह सबसे बड़ा मुद्दा है। Shared Hosting में आपको थोड़ी कम सपोर्ट मिलती है कुछ कंपनियों की तरफ से।

>>कम जगह – क्योंकि यह होस्टिंग सस्ता है तो आपका होस्टिंग प्रोवाइडर आपको कम Storage provide करता है।

Shared Hosting किसके लिए है?

अगर आप एक न्यू ब्लॉगर हो, अपना ब्लॉग या वेबसाइट अभी बनाकर स्टार्ट कर रहे हो तो Shared hosting आपके लिए बेहतरीन होगा, क्योंकि आपको ज्यादा पैसे नहीं देने पड़ेंगे शुरुआत के दिनों में। और छोटे वेबसाइट पर ज्यादा बढ़ा होस्टिंग लेने का कोई जरूरत भी नहीं है।

2. WordPress Hosting

WordPress hosting सबसे अच्छा है आपके ब्लॉग के शुरुआत के लिए।

अगर आप अपना new वेबसाइट WordPress पे start कर रहे तो WordPress hosting के साथ जाना बहुत ही समझदारी वाली बात हो सकती है।

यह hosting फुल optimise होता है WordPress साइट के लिए।

WordPress hosting में आपको shared hosting के मुकाबले ज्यादा सिक्युरिटी मिलती है।

और अगर आप shared hosting से compare करोगे तो WordPress hosting के लिए आपको extra pay करना पड़ेगा और आपको features भी shared hosting से ज्यादा मिलती है।

इस hosting मे आपको डायरेक्ट WordPress install करने का option मिल जाता है बिना c-panel मे गये।

WordPress hosting क्यूं अच्छा है

>>ज्यादा सिक्युरिटी – Shared hosting के मुकाबले आपको ज्यादा सिक्युरिटी मिलती है इसमे।

>>Frequent update – इस hosting मे आपको WordPress का auto update मिल जाता है, manually करने की जरूरत नहीं होती।

>>WordPress optimise – यह hosting सुरु से ही WordPress optimise रहता है, अगर आप WordPress का इस्तेमाल करते हो अपना साइट बनाने के लिए तो WordPress hosting के साथ जाना बेहतर होगा।

WordPress hosting क्यूं बुरा है

>>Same काम ज्यादा दाम – WordPress hosting का power, performance same होता है shared hosting की तरह, लेकिन कुछ ज्यादा पैसे देने होते है इसके लिए।

3. VPS hosting – Virtual private server

जैसा कि मैंने आपको shared hosting के बारे में बताया, एक हॉस्टल के एक कमरे में दो-तीन स्टूडेंट रूम शेयर करके रूम फिश मिल कर देते हैं।

लेकिन अगर हॉस्टल का एक रूम में सिर्फ एक बच्चा रहता है तो वह अकेला मालिक होता है उस रूम का।

उसी प्रकार VPS होस्टिंग आपके रूम की तरह सिर्फ आपका रहेगा।

आप उसमे कोई भी फाइल रख सकते हो, बिना किसी के साथ अपने होस्टिंग की जगह को शेयर किये।

VPS hosting मे आपको Shared hosting से ज्यादा space, bandwidth, और speed मिल जाती है, जिससे आपके वेबसाइट का लोडिंग स्पीड बहुत ही fast हो जाता है।

यह होस्टिंग shared hosting से तो काफी बेहतर है, लेकिन इसके भी ऊपर एक होस्टिंग Plan है Dedicated server hosting जो VPS hosting से ज्यादा बेहतर होता है, क्योंकि VPS hosting में भी कुछ लिमिटेशंस है।

VPS hosting का फायदा

>>सिक्युरिटी – VPS होस्टिंग मैं आपको एक बेहतर सिक्योरिटी मिलती है जो कि आपके वेबसाइट को hacker से और virus से बचाता है, जैसा कि आपको पता है हम अपने वेबसाइट पर काफी मेहनत करते हैं तो सिक्योरिटी जरूरी है क्योंकि किसी भी हालत में हम अपनी वेबसाइट को खोने का नुकसान नहीं उठा सकते हैं।

>>हाई स्पीड एंड परफारमेंस – VPS होस्टिंग के साथ आप एक बेहतर परफॉर्मेंस और स्पीड का अनुभव करेंगे जो कि आपको shared होस्टिंग में नहीं मिल सकता है।

>>Extending facility – जैसे-जैसे आप का वेबसाइट बड़ा होता है, आपको ज्यादा जगह की जरूरत पड़ती है ज्यादा bandwidth चाहिए होता है, जो कि आप VPS होस्टिंग में आसानी से कर सकते हैं। VPS s होस्टिंग में आपको अपने हिसाब से space, memory और bandwidth custom increase करने का ऑप्शन मिल जाता है।

>>Low price – क्लाउड और डेडीकेटेड सर्वर से सस्ता है और परफॉर्मेंस भी आपको अच्छा मिल ही जाता है।

VPS होस्टिंग के नुकसान

>>Low Resource – VPS hosting डेडीकेटेड और क्लाउड होस्टिंग को Compete नहीं कर सकता है। उन दोनों होस्टिंग से आपको VPS होस्टिंग में कम रिसोर्सेस मिलते हैं

>>No Beginner Friendly – अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं और अपना पहला वेबसाइट बना रहे हैं तो आपको दिक्कतें आ सकती हैं, VPS होस्टिंग के टेक्नोलॉजी stuff को समझने में।

VPS होस्टिंग किसके लिए है

VPS होस्टिंग मीडियम ट्रैफिक पाने वाली वेबसाइट के लिए बेहतर होता है, जैसे कि आपको shared होस्टिंग में अगर उतनी अच्छी स्पीड नहीं मिल पा रही है ट्रैफिक बढ़ने की वजह से तो VPS होस्टिंग के साथ आप जा सकते हैं बेहतर ऑप्शन होगा।

4. Dedicated server hosting

जैसे कि मैंने आपको VPS होस्टिंग में समझाया आपको हॉस्टल का एक कमरा मिलता है, उसी तरह डेडीकेटेड सर्वर होस्टिंग में आपको पूरे हॉस्टल का ही कंट्रोल मिल जाता है आपके अलावा कोई भी वहां नहीं रह सकता है।

आपको एक अलग सरवर ही दे दिया जाता है जिसमें सिर्फ आपके वेबसाइट के फाइल्स स्टोर होते हैं।

Dedicated server hosting बहुत ही महंगा होता है इसका price भी cloud होस्टिंग के आस पास होता है।

डेडिकेटेड सर्वर होस्टिंग में भी आपको थोड़ी सी टेक्निकल नॉलेज की जरूरत पड़ेगी अगर आप एक नए ब्लॉगर हो, तो dedicated server होस्टिंग के साथ जाना समझदारी वाली बात नहीं है।

Dedicated server hosting के फायदे

>>Full control – Dedicated server hosting में आपको आपके सरवर के ऊपर पूरा फुल कंट्रोल होता है क्योंकि इसमें किसी का भी part नहीं होता।

>>Better security – Dedicated server hosting में आपको VPS और Shared hosting से काफी बेहतर सिक्योरिटी मिलती है जो कि आपके वेबसाइट को hacker और virus से बचाती है।

>>बेहतर performance – परफॉर्मेंस के बारे में तो पूछना ही नहीं है, dedicated server hosting में आपको सुपर परफॉर्मेंस मिलती है, क्लिक करते के साथ पेज खुल जाएंगे स्पीड बहुत ही अच्छी होती है इस hosting के साथ।

>>Flexibility – समय के साथ अगर आपके वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ते हैं, तो आपको memory, space, bandwidth बढ़ाना पड़ता है, dedicated server hosting के साथ यह तीनों काम आप आसानी से कर सकते हैं क्योंकि यहां आप को फूल flexibility मिलती है।

Dedicated server hosting के नुकसान

>>महंगा है – Dedicated server hosting का plan आपको shared और VPS होस्टिंग की तुलना में बहुत ही ज्यादा होता है।

>>टेक्निकल cost – यह होस्टिंग न्यू ब्लॉगर के लिए नहीं है, क्योंकि आपको यहां पर टेक्निकल नॉलेज की जरूरत पड़ सकती है। अगर आपको टेक्निकल नॉलेज नहीं है तो आपको किसी expert की जरूरत पर सकता है, और इसके अलग खर्चे पड़ते है।

Dedicated server hosting किसके लिए है

आप बहुत ही बड़ी वेबसाइट रन करते हो जैसे कि e-commerce example – Ali Express, Amazon, Myntra तो आपको डेडीकेटेड सर्वर होस्टिंग की जरूरत पड़ेगी।

5. Cloud Web Hosting

Cloud Hosting सबसे बेहतरीन होस्टिंग में से एक है।

क्लाउड होस्टिंग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको अपने website loading के लिए स्पीड बहुत ही ज्यादा मिलती है।

जो भी यूजर आपके website पर आएंगे उनके लिए आपके site pages बहुत ही तेजी से खुल जाते हैं।

जिससे कि user experience बहुत ही अच्छा होता है।

लेकिन हां क्लाउड होस्टिंग के लिए आपको कुछ ज्यादा पैसे देने पड़ते हैं।

और अगर आप एक न्यू ब्लॉगर है तो मैं कभी भी आपको सजेस्ट नहीं करूंगा क्लाउड होस्टिंग के साथ जाए।

क्योंकि जब आपका Business grow हो जाएगा तब आप क्लाउड होस्टिंग के साथ जा सकते हो।

अभी आपके पास कम पैसे होते हैं तो मैं बोलूंगा कि आप shared hosting के साथ जाए जोकि न्यू ब्लॉग के लिए बेहतर साबित होता है।

क्लाउड होस्टिंग के फायदे – (Advantages of cloud hosting)

>>साइट Uptime – uptime हम उसे बोलते हैं जब तक हमारा साइट इंटरनेट पर ऑन रहता है। क्लाउड होस्टिंग के साथ फायदा यह होता है कि आपका वेबसाइट ज्यादातर टाइम ऑन ही रहता है, तो आपके site की uptime ज्यादा होती है।

>>Page loading speed – क्लाउड होस्टिंग के साथ आप अपने वेबसाइट पर एक बेहतर स्पीड का अनुभव करेंगे। क्लिक करते के साथ site pages खुल जाते हैं, क्लाउड होस्टिंग इसीलिए स्पीड के मामले में सभी hosting plan से आगे निकल जाता है।

>>सिक्युरिटी – क्लाउड होस्टिंग पर आपको सिक्योरिटी भी बहुत अच्छी मिल जाती है, जिससे आपका साइट hacker से सुरक्षित होता है, आपको अपने site को खोने का डर नहीं रहता है।

>>Storage extend – मान लीजिए आपके वेबसाइट पर ज्यादा फाइल्स हो गई तो Shared hosting, VPS hosting, Dedicated server hosting में यह ऑप्शन नहीं आता कि आप उस storage को बड़ा सको लेकिन cloud hosting के साथ आपको storage बढ़ाने का ऑप्शन भी मिल जाता है।

>>Handle high traffic – कुछ वेबसाइट्स पर रातों-रात कुछ पोस्ट वायरल हो जाते हैं, जिससे ट्रैफिक बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। जिस पर अगर आपने क्लाउड होस्टिंग लिया है तो कोई दिक्कत की बात नहीं है क्योंकि क्लाउड होस्टिंग पर Automatic ट्रैफिक बढ़ने का भी लोड हैंडल हो जाता है।

क्लाउड होस्टिंग के नुकसान – Disadvantages of cloud hosting

>>महँगा है – अगर आप और होस्टिंग की तुलना में cloud hosting का price देखोगे तो थोड़ा ज्यादा होता है, यही एक नुकसान मेरे को क्लाउड होस्टिंग में लगता है कि इसके लिए हमें ज्यादा पैसे देने होते हैं बाकी और कोई नुकसान मैंने नहीं देखा।

Cloud hosting किसके लिए है?

अगर आपके वेबसाइट पर कभी-कभी अचानक से बहुत ही ज्यादा ट्रैफिक बढ़ जाता है, तो क्लाउड होस्टिंग आपके लिए है। जैसे कि event bloggers – जो लोग event Blogging करते हैं उनके वेबसाइट पर अचानक से ट्रैफिक बढ़ जाती है, उसको सिर्फ क्लाउड होस्टिंग के तहत ही हैंडल किया जा सकता है।


एक अच्छे होस्टिंग में क्या-क्या Features होनी चाहिए।

Hosting तो आपको सस्ते से सस्ते दामों में मिल जाएगी लेकिन क्या आपके होस्टिंग प्रोवाइडर आपको सही feature देते हैं?

क्योंकि बिना अच्छे फीचर्स के होस्टिंग बेकार है, अगर आपको speed और space ही नहीं मिलेगी तो hosting का क्या फायदा।

तो चलिए हम कुछ basic terms को जानते हैं जो बहुत ही जरूरी है hosting खरीदने के लिए।

1. Uptime

आपका website कितना समय server पर ऑनलाइन रहता है उसे हम uptime के नाम से जानते हैं।

और अगर आपका वेबसाइट सरवर पर ऑफलाइन है तो उसे downtime के नाम से जानते हैं।

एक बेहतर hosting provider के साथ 99% का अप टाइम कम से कम होना चाहिए।

आज के समय में आप किसी भी hosting provider से hosting ले लीजिए वह 99.9% का अब टाइम का गारंटी लेते हैं, और वास्तविक में ऐसा है भी आपका वेबसाइट ऑलमोस्ट 99% से ऊपर ऑनलाइन रहता है।

2. Bandwidth

Bandwidth से अंदाजा लगाया जाता है कि एक निश्चित समय में एक visitor कितने डाटा का यूज कर रहा है।

और अगर आप होस्टिंग ले रहे हैं तो कुछ होस्टिंग प्रोवाइडर आपको limited bandwidth देते हैं जैसे कि Siteground.

ज्यादातर होस्टिंग प्रोवाइडर बैंडविथ अनलिमिटेड ही देते हैं तो आपको चिंता करने की कोई बात नहीं है।

आप hostinger के साथ जा सकते हैं अगर आपको unlimited bandwidth चाहिए।

3. Disk Space और Storage

जैसा कि आपने ऊपर के दिए गए पेराग्राफ में पढ़ा होगा, हम अपनी वेब साइट पर कुछ files upload करते हैं।

जैसे कि images, GIFs और इन चीजों को अपलोड करने के लिए हमें कुछ जगह की जरूरत होती है।

वह जगह हमें Hosting provider provide करता है, और वह जगह लिमिटेड होती है जैसे कि आपको 20gb se 30gb तक shared hosting में मिल जाता है।

तो आपको होस्टिंग लेते समय disk space और storage पर भी ध्यान देना होता है।

4. Backup

Backup होता है आपके वेबसाइट पर अपलोड किए गए सारे फाइलों का।

जैसे आपके साइट पे upload किए गए media, plugins, themes का zip फाइल, उसे हम बैकअप के तौर पर रखते हैं।

ताकि कभी हमारा वेबसाइट के delete हो जाने से दिक्कत ना हो।

हम अपना वेबसाइट फिर से वह बैकअप अपलोड करके रन कर सके, बैकअप की सुविधा के लिए होस्टिंग प्रोवाइडर आपसे कुछ ज्यादा पैसे का मांग करते है।

5. Email service

ज्यादातर होस्टिंग प्रोवाइडर आपको बिजनेस ईमेल की सुविधा भी देते है।

आपके होस्टिंग प्लान के साथ वह बिजनेस ईमेल का option देते हैं जिसे आप अपनी वेबसाइट की ब्रांडिंग करने में इस्तेमाल कर सकते हैं आपका अपने साइट का custom email बनाकर।

6. Customer support

सबसे जरूरी चीज में से एक है Customer support क्योंकि अगर आपको Hosting provider से सपोर्ट ही नहीं मिलेगा तो आने वाले दिनों में प्रॉब्लम्स को कैसे दूर करेंगे।

Customer support के मामले में hostgator, Godaddy मुझे सबसे अच्छे लगे, support के लिए आप डायरेक्टली कॉल मैसेज या 24×7 लाइव चैट कर सकते हैं।

यह सबसे महत्वपूर्ण फीचर्स हैं जो हर hosting provider में आप को खरीदने से पहले देखना चाहिए।

इन्हीं छह features के basis पर हम होस्टिंग खरीदते हैं।

मैं नीचे आपको सबसे बेस्ट होस्टिंग प्रोवाइडर के लिस्ट दे रहा हूं, अगर आपको होस्टिंग खरीदना है तो वहां से जाकर खरीद सकते हैं।


होस्टिंग कहां से खरीदें – Buy hosting

1. Siteground

siteground web hosting

Siteground hosting की सबसे बेहतरीन बात है उसकी स्पीड, विश्वास कीजिए इससे ज्यादा स्पीड आपको किसी भी होस्टिंग में नहीं मिल पाएगी।

इसके साथ-साथ साथ आपके साइट का uptime भी 99.9% रहेगा।

जोकि SEO के हिसाब से बहुत ही सही चीज है।

Siteground के साथ आपको shared hosting, VPS hosting, dedicated server hosting, cloud hosting और WordPress hosting सारे ऑप्शन मिल जाते हैं

आप अपनी जरूरत के अनुसार किसी भी प्लान के साथ जा सकते हैं लेकिन shared hosting speed के मामले में siteground सबसे ऊपर है।

आप अगर Siteground से होस्टिंग खरीदते हो तो ईमेल अकाउंट और फ्री SSL भी मिलता है

Siteground की खूबियां

>>बेहतरीन स्पीड – Siteground hosting बेहतरीन स्पीड के लिए ही जाना जाता है।

>>99.9% अप टाइम

>>सिक्योरिटी

Siteground की खामियां

>>Low bandwidth

>>ज्यादा price

2. Bluehost

bluehost web hosting

Bluehost छोटे और मीडियम ब्लॉगर के बीच बहुत ही पॉपुलर है, बहुत सारे ब्लॉगर अपना Blogging journey Bluehost के होस्टिंग plan की मदद से ही स्टार्ट करते हैं।

ब्लूहोस्ट के साथ भी आपको shared hosting, VPS hosting, dedicated server hosting, cloud hosting और WordPress hosting का ऑप्शन मिल जाता है।

अगर आप annual प्लान के लिए जाते हो तो एक domain name भी आपको फ्री में मिल जाता।

Bluehost पर सभी इसलिए विश्वास करते हैं, क्योंकि यह सबसे पुरानी hosting provider में से एक है जो 1996 में शुरू किया गया था।

खुद WordPress Bluehost को recommend करता है।

Bluehost के साथ आपको 24×7 का सपोर्ट मिल जाता है, अब यह आपके ऊपर डिपेंड है कि आप किस तरीके से contact करना चाहते हो फोन ईमेल या लाइव चैट।

इसके साथ आपको फ्री SSL और साइट बिल्डर भी मिलता है।

Bluehost की खूबियां

>>Affordable price – ब्लू वेस्ट के साथ अपना वेबसाइट शुरू करना क्योंकि इसका प्राइस और होस्टिंग्स की तुलना में कम है

>>पॉपुलर है – bluehost shared hosting sell करने मे सबसे ऊपर है।

>>customer support – 24×7 support provide करत है bluehost

Bluehost की खामियां

>>कोई नही है

3. Godaddy

godaddy web hosting

Godaddy भारत का सबसे पॉपुलर ब्रांड है जो होस्टिंग और डोमेन नेम सेल करता है।

इसके पॉपुलर होने का सबसे बड़ा रीजन है वह आपको सस्ते दामों पर काफी फीचर्स दे देता है।

इससे होस्टिंग खरीदना बहुत ही आसान है, एक न्यू होस्टिंग buyer भी आसानी से कर सकते हैं, Godaddy के साथ आपको सारी hosting plan मिल जाएगी।

जैसे कि Shared hosting, VPS hosting, Dedicated server hosting, Cloud hosting और WordPress hosting plan जो आप आसानी से खरीद सकते हो।

इसके साथ-साथ godaddy आपको बेहतरीन customer support प्रोवाइड करता है।

Godaddy की खूबियां

>>सस्ता प्लान

>>99.9% uptime guarantee

>>बेहतरीन कस्टमर सपोर्ट

>>मोस्ट पॉपुलर इन इंडिया

Godaddy की खराबी

>>फ्री एस्सेल नहीं देता

>>Godaddy पर hosted website कभी-कभी स्लो रिस्पांस देते हैं

4. Hostinger

hostinger web hosting

Hostinger एक europen कंपनी है और आज के समय में सबसे ज्यादा hosting plan बेचने वाली hosting provider है।

इसका सबसे बड़ा reason है, सबसे सस्ता प्लान।

आपने सही सुना है godaddy आपको सबसे सस्ता hosting plan देता है और एक नए ब्लॉगर के लिए इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है।

होस्टिंग के साथ आपको Shared hosting, VPS hosting, Dedicated server hosting, cloud hosting और WordPress hosting सारी होस्टिंग प्लान मिल जाती है।

इसके साथ-साथ आपको 24 * 7 लाइव customer support का ऑप्शन मिल जाता है।

मैं खुद अपने बहुत सारे वेबसाइट पर hosting plan use कर रहा हूं और मेरा experience काफी अच्छा रहा इसके साथ।

Hostinger क्यूँ अच्छा है

>>सबसे सस्ता है

>>अच्छा परफॉर्मेंस और स्पीड देता है

>>सारे तरह के plans अवेलेबल है

>>होस्टिंग के एनुअल प्लान के साथ आपको फ्री डोमेन नेम मिल जाता है

Hostinger क्यूँ बुरा है

>>कस्टमर सपोर्ट उतना अच्छा नहीं है

5. Hostgator

hostgator web hosting

Hostgator india के बाहर बहुत पॉपुलर है, और आपके site को बेहतरीन loading स्पीड प्रोवाइड करता है।

हालांकि आपको बाकी और होस्टिंग की तुलना में थोड़ा महंगा लगेगा।

लेकिन अगर आपको इसके Cloud hosting प्लान के साथ जाना है तो इससे अच्छा कोई और ऑप्शन नहीं हो सकता Cloud hosting की दुनिया में।

सारे hosting provider की तरह पर भी आपको Shared hosting, VPS hosting, Dedicated server hosting, cloud hosting और WordPress hosting सारी होस्टिंग प्लान यहाँ भी मिल जाती है।

Tip – Festival के टाइम पर अगर आप hostgator का प्लान लेते हैं तो आपको 50% तक का off मिल जाता है।

Hostgator क्यूं अच्छा है

>>अच्छी स्पीड

>>99.9% अप टाइम

>>call support

Hostgator क्यूं बुरा है

>>ज्यादा पैसे लेता है


Related question (मिलते जुलते questions)

Question – वेब होस्टिंग सर्विस?

Answer – सबसे बेहतर वेब होस्टिंग सर्विसेस हैं, siteground, bluehost, hostinger मैंने upar के पैराग्राफ मे समझाया है आप वहाँ से मदत ले सकते हैं।

Question – होस्टिंग मीनिंग इन हिन्दी? (hosting meaning in hindi)

Answer – जैसा की मैंने ऊपर पैराग्राफ मे बताया है, hosting provider आपको इन्टरनेट पर जगह देती है आपके वेबसाइट की files upload करने के लिए।

Question – होस्टिंग साधन का क्या मतलब है?

Answer – Hosting साधन से मतलब है जो हमे hosting सर्विस देता हो जैसे की, bluehost, siteground and hostinger.


अंत मे कुछ बाते – Last Words

दोस्तों मैंने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की है, कि आपको web hosting से रिलेटेड सारी बातें समझा दूँ जैसे web hosting kya hai, web hosting kha se khride.

अगर आपके मन में कोई भी confusion है तो आप नीचे comment box comment करके मेरे से पूछ सकते हैं। आपका दोस्त सागर पर 24×7 आपकी मदद करने के लिए तैयार है।

जाते-जाते मैं आपको यह बता देना चाहता हूं कि मैं hosting खरीदते समय आप उन बातों का जरूर ख्याल रखें जो मैंने फीचर्स के तौर पर बताइ है।

आशा करता हूं कि आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होगा अगर आप इस पोस्ट को लाइक करते हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि और लोगों को कुछ सीखने का मौका मिले।

Related Post – Blog Kya Hai – Blogging Kya Hai Hindi Me Jane – 2020 Update

Leave a Comment